दाढ़ी-मूछों वाली एक औरत अजीब लगती है?अगर हां तो इस लड़की की लड़ाई आपसे ही है| जानिए पूरा मामला:

0
119

महिलाओं को पुरुषों की तुलना में अपनी रोज़मर्रा की जिंदगी में अत्यधिक चुनौतियो का सामना करना पड़ता है,फिर चाहों बात स्कूल या कॉलेज जाने वाली लड़की की हो,या फिर किसी वोर्किंग वीमेन या हाउसवाइफ की|लेकिन बहुत सी ऐसी महिलाएं है,जो इन सभी के खिलाफ आवाज़ उठा रही है उनमे से एक है अमेरिका की नोवा गैलेक्सिया.इन्होने PCOS नाम कि बीमारी का दंश झेल रही महिलायों का हौसला बनाये रखने के लिए समाज के कथित ठेकेदारों के खिलाफ आवाज़ बुलंद की है|

तो पहले यो जानते है कि PCOS नाम की बीमारी है क्या?इस बीमारी का फुलफोर्म है Polycystic Ovary syndrome.इस बीमारी से पीड़ित महिलाओं को हॉर्मोन इमबैलेंस की वजह से कई तरह की परेशानियो से जूझना पड़ता है,और यही वो वजह है जिसकी वजह से महिलाओं को दाढ़ी मूछें आने लगती है| यह महिलायों को बीमारी तब होती जय जब महिलाओं के शरीर में टेस्टोस्टेरोन अधिक मात्रा में रिलीज़ होना शुरू हो जाता है|

A woman with bearded faces looks strange

और आपको तो पता ही है अगर महिलाओं के थोड़े से भी अनचाहे बाल शरीर पर दिख जाते है,तो उसे एक मर्द या हीन नज़रों का शिकार होना पड़ता है,और इसके चलते उन्हें शेव या वैक्स कराना पड़ता है|

नोवा गैलेक्सिया इस बीमारी से पीड़ित है,और समाज के हीन नज़रों से बचने के लिए वह बचपन से ही शेव करती आ रही है,लेकिन अब नोवा ने फैसला कर लिया है कि अब वो शेव नहीं करेंगी और मकसद था “नो शेव नवम्बर” का हिस्सा बनना|

नो शेव नवम्बर मतलब इसमें हिस्सा लेने वाले लोग पूरा नवम्बर शेव नहीं करते और जो पैसा बचता है ना शेव करने से उस पैसे को वह दान करते है,जो कैंसर पीड़ितों के लिए जाता है|

A woman with bearded faces looks strange1

बस इस मुहीम में शामिल हुई और उसी नवम्बर में उनका हौसला बुलंद हुआ और फैसला किया कि अब वो कभी शेव नहीं करेंगी और वो जैसी है वैसी ही रहेंगी हमेशा के लिए,उन्होंने अपनी बीमारी को ही एक मजबूती बना डाला,उनका मानना है कि POCS से जूझ रही महिलायों के साथ यह नार्मल बात है|

इसके बाद नोवा ने अपने इस लुक की फोटोज सोशल मिडिया पर पोस्ट करना शुरू कर दिया,और उन सभी महिलाओं को सराहना दिया जो इस बीमारी से ग्रसित है| वहीँ दूसरी तरफ समाज के कुछ कथित ठेकेदारों ने उनकी आलोचना करनी शुरू कर दी और भला बुरा कहने लगे,वह उन सभी लोगों से लड़ रही है जो यह मानते है कि जो वह कर रही है वह गलत है|

नोवा का यह कदम वाकई तारीफ-ए-काबिल है,ऐसा बहुत ही कम महिलायें कर पाती है|

A woman with bearded faces looks strange2

दोस्तों आपको यह नोवा का यह कदम कैसा लगा क्या आप उसके इस कदम से सहमत है,क्या आप मानते है कि उनका ऐसा रहना समाज के लिए सही है?आप हमें अपने जवाब निचे कमेंट के द्वारा जरूर दें|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here