ICC U-19 वर्ल्ड कप फाइनलः टीम इंडिया को ऑस्‍ट्रेलिया की चुनौती, जो जीता वो बनाएगा रिकॉर्ड

0
100
ICC U-19 World Cup Final. Team India will challenge Australia, who will win the record - udta Social Official

भारत और आॅस्ट्रेलिया शनिवार को बे ओवल मैदान पर आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में जब आमने-सामने होंगी तो उनकी कोशिश अपने चौथे खिताब पर कब्जा जमाने की होगी. दोनों टीमें अभी तक इस वर्ल्ड कप को तीन-तीन बार घर ले जा चुकी हैं. यह फाइनल एक तरह से 2012 के अंडर-19 वर्ल्ड कप का दोहराव होगा.

भारत ने सेमीफाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 203 रनों के भारी अंतर से मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई है. वहीं आॅस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में सभी को चौंकाने वाली अफगानिस्तान को छह विकेट से शिकस्त देकर खिताबी मुकाबले में कदम रखा.

दोनों टीमें टूर्नामेंट की शुरुआत से ही शानदार प्रदर्शन कर रही हैं.

भारत ने ग्रुप दौर में आॅस्ट्रेलिया को 100 रनों से हराया भी है. ऐसे में उसके पास मानसिक बढ़त होगी. प्रतिभाशाली बल्लेबाज पृथ्वी शॉ की कप्तानी वाली भारत इस टूर्नामेंट में अभी तक एक भी मैच नहीं हारी है.

आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ ग्रुप दौर के मैच में पृथ्वी ने 94, मनजोत कालरा ने 86 रनों की पारियां खेली थीं और भारत ने 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 328 रन बनाए थे. जबाव में आॅस्ट्रेलिया सिर्फ 228 रन ही बना सकी थी. हालांकि इसके बाद आॅस्ट्रेलिया ने पापुआ न्यू गिनी, जिम्बाब्वे, बांग्लादेश और पाकिस्तान को मात दी थी. फाइनल में सभी की निगाहें भारत की मजबूत बल्लेबाज़ी पर होंगी. कप्तान पृथ्वी और शुभमन गिल के रूप में भारत के पास दो शानदार बल्लेबाज़ हैं जिन्होंने अभी तक अपने बल्ले से सभी को प्रभावित किया है. गिल ने अभी तक इस टूर्नामेंट में 170 की औसत से रन बनाए हैं. गिल ने पाकिस्तान के खिलाफ 94 गेंदों में 102 रनों की पारी खेली थी. इसके अलावा उन्होंने 63, 90 और 86 रनों की पारियां खेली हैं.

वहीं गेंदबाज़ी में भारत का दारोमदार शिवम मावी, कमलेश नागरकोटी और ईशान पोरेल पर होगा. अभिषेक शर्मा भारत के एक और मुख्य खिलाड़ी हैं. वह अनुकूल रॉय के साथ स्पिन की जिम्मदेरी संभालेंगे. जबकि अभिषेक अंत में आकर कुछ अच्छे शॉट भी लगा सकते हैं.

वहीं दूसरी तरफ आॅस्ट्रेलिया को लेग स्पिनर ल्योड पोप से काफी उम्मीदें हैं जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 35 रन देकर आठ विकेट लिए थे. जबकि टीम की बल्लेबाज़ी का दारोमदार कप्तान जेसन सांघा, जैक एडवडर्स और नाथन मैक्स्वीनी के ऊपर होगा.

भारत ने इससे पहले 2000, 2008 और 2012 में वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया है. जबकि आॅस्ट्रेलिया ने 1988, 2002 और 2010 में​ खिताब जीता है.

भारत : पृथ्वी शॉ (कप्तान), शुभमन गिल, आर्यन जुयाल, अभिषेक शर्मा, अर्शदीप सिंह, हार्विक देसाई, मनजोत कालरा, कमलेश नागरकोटी, पंकज यादव, रियन पराग, ईशान पोरेल, हिमांशु राणा, अनूकुल रॉय, शिवम मावी और शिवा सिंह.

आॅस्ट्रेलिया : जेसन सांघा (कप्तान), विल सदरलैंड, जेवियर बार्टलेट, मैक्स ब्रयांट, जैक एडवडर्स, जैक इवांस, जैरोड फ्रीमैन, रयान हेडली, बैक्टर होल्ट, नाथन मैक्स्वीनी, जोनाथन मेरलो, ल्योड पोप, जेसन राल्सटन, परम उप्पल और आस्टिन वॉ.

स्रोत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here