राजस्थान में लुटेरी दुल्हनों का आतंक जारी, कानून व्यवस्था और सरकार की नाक में हुआ दम।

0
87
The horror of the luteri brides in Rajasthan continues2 - Udta Social Official

राजस्थान: शादी-विवाह एक पवित्र बंधन माना जाता है, लेकिन आजकल समाज में इस पवित्र बंधन की आड़ में कई तरह के वारदातों को अंजाम दिया जाता है, जोकि न समाज के लिए हितकारी है और न ही देश के लिए। बता दें कि भारत एक ऐसा देश है, जहां विवाह को बहुत महत्व दिया जाता है। हर कोई अपने बच्चों की शादी बड़ी ही धूमधाम से करता है, लेकिन ऐसे में अगर उसे पता चले, जिससे शादी हुई उसने फायदा उठाया या किसी वारदात को अंजाम दिया तो उसके पैरो के नीचे की जमीन खिसक जाती है। ऐसा ही कुछ मामला राजस्थान से आया है, तो आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

राजस्थान में हर पैरेंटस के मन में डर का साया है, कहीं उनके बेटे को भी तो नहीं मिलेगी कोई लुटेरी दुल्हन, जो शादी के अगले ही दिन सबकुछ लेकर फरार हो। जी हां, राजस्थान से चौंका देने वाली खबर सामने आई है। राजस्थान में लुटेरी दुल्हनों का आतंक कुछ इस तरह से बढ़ गया है, जिससे पुलिस की रातों की नींद उड़ गई है। राजस्थान में पुलिस क्या सरकार की नाक में इन दुल्हनों ने दम किया हुआ है।

The horror of the luteri brides in Rajasthan continues - Udta Social Official

 

 दरअसल, राजस्थान में लड़की लड़के को पसंद करके शादी करती है और सुहागरात को ही लूटपाट करके फरार हो जाती है, इसी घटना ने पूरे राजस्थान को हिला के रख दिया है। पुलिस और सरकार ये नहीं समझ पा रही है कि आखिर इस मामले पर नकेल कैसे कसी जाएगी? बता दें कि मामला इतना पेंचीदा हो गया है कि विधानसभा में इस मुद्दे को उठाया गया।
The horror of the luteri brides in Rajasthan continues1 - Udta Social Official

 

समूचे राजस्थान से इस तरह के करीब 103 मामलें सामने आएं हैं, जिसमें से पुलिस 57 लड़कियों को धरधबोचा है, लेकिन 46 दुल्हन अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। विधानसभा सदन में ए. कटारिया ने मुद्दे पर जवाब देते हुए कहा कि इन घटनाओं में दो करोड़ से ज्यादा की नकदी सहित जेवरात लूटपाट हुई है, जोकि किसी भी नजरिये से नहीं है। साथ ही सरकार ने इस मुद्दे को जल्द से जल्द शांत कराने की पूरी कोशिश करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here