Preview: ‘चोटिल’ दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ऐतिहासिक बढ़त बनाने उतरेगी टीम इंडिया

0
89
India to play South Africa 3rd ODI - Udta Social Official

केपटाउन। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 6 मैचों की वनडे सीरीज का तीसरा मैच कल यानी बुधवार को केपटाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम में खेला जाएगा। पहला वनडे 6 विकेट से जीतने के बाद टीम इंडिया ने दूसरे मैच में दक्षिण अफ्रीका को 9 विकेट से रौंदा था। सीरीज में 2-0 की बढ़त बना चुकी टीम इंडिया के हौसले बुलंद हैं।

तो वहीं दक्षिण अफ्रीका चोटों की मार झेल रही है। एक के बाद एक बड़ा दिग्गज खिलाड़ी सीरीज से बाहर होता जा रहा है। पहले तूफानी बल्लेबाज एबी डिविलियर्स और फिर पहले मैच के शतकवीर कप्तान फाफ डुप्लेसिस और अब विकेट कीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक सीरीज से बाहर हो चुके हैं।

हालांकि माना जा रहा है कि चौथे वनडे तक एबी डिविलियर्स सीरीज में वापसी कर लेंगे लेकिन बाकी के दोनों खिलाड़ी पूरी सीरीज से बाहर हो गए हैं। अफ्रीकी टीम की कप्तानी ऐडन मार्करम को सौंपी गई है। लेकिन अपने पहली ही मैच में वे कुछ प्रभाव नहीं छोड़ सके।

Quinton de Kock and du-plessis - Udta Social Official

डि कॉक और डुप्लेसी के बाहर होने के बाद मध्यक्रम को मजबूत करने के लिए दक्षिण अफ्रीका अनुभवी बल्लेबाज फरहान बेहरदीन को अंतिम एकादश में जगह दे सकता है। टीम को ऐसे में खायेलिहले जोंडो को बाहर करना पड़ सकता है। लेकिन एक असमंजस की स्थिति डेविड मिलर के साथ भी है जो दोनों मैचों में लगातार कुलदीप यादव का शिकार बने है, उन्हें बाहर किया जा सकता है।

हालांकि ऐसा कम ही होगा क्योंकि मिलर किसी भी समय मैच का पासा पलट सकते हैं। वहीं डिकॉक की जगह विकेट कीपर के रूप में हेनरिक क्लासेन टीम का हिस्सा हो सकते हैं। हालांकि ये दक्षिण अफ्रीका के लिए अच्छी खबर हो सकती है क्योंकि अभी हाल ही में क्लासेन अफ्रीका के डोमेस्टिक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे हैं। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी क्रम में हाशिम अमला को जिम्मेदारी लेनी होगी जो अभी तक अपनी क्षमताओं के मुताबिक बल्लेबाजी नहीं कर पाए हैं।

दिलचस्प बात यह है कि प्लेइंग इलेवन में डु प्लेसिस की जगह पर शामिल किए गए खाया जोंडो, दक्षिण अफ्रीका के लिए 25 रनों के साथ संयुक्त शीर्ष स्कोरर रहे, हालांकि दक्षिण अफ्रीका की असफल के पीछे का कारण युजवेन्द्र चहल और कुलदीप यादव की सफल गेंदाबाजी रही। दो भारतीय कलाई-स्पिनरों ने क्रमशः सात और छः विकेट लिये हैं। भले ही इन दोनों ने ग्रेट बॉल पर विकेट न लिए हों लेकिन अभी तक के खेल में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका को खूब नचाया है।

India vs South Africa 3rd - Udta Social Official

भारत ने दक्षिण अफ्रीका में आ तक एक भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं जीती है। यहां तक कि आज तक एक भी सीरीज में भारत ने लगातार 3 मैच नहीं जीते हैं। अगर भारत दक्षिण अफ्रीका को केप टाउन में हरा देती है तो ये पहली बार होगा जब भारत दक्षिण अफ्रीका को लगातार तीन मैचों में मात देगा। 1992-93 और 2010/11 में भारत दो बार एक सीरीज में दो वनडे मैच जीतने में सफल रहा, लेकिन दोनों बार 5-2 और 3-2 से सीरीज गंवाई है।

भारत के दृष्टिकोण से, यह सिर्फ उन गेंदबाजों की अकेले जीत नहीं है जिन्होंने दोनों मैचों में कमाल की गेंदबाजी की बल्कि बल्लेबाजों की फॉर्म भी चरम पर है। पहले वनडे में विराट कोहली के 119 गेंदों में 112 रन और अजिंक्य रहाणे के 86 गेंदों में 79 रनों के साथ तीसरे विकेट के लिए 189 रनों की सेझेदारी ने होस्ट को मैच से बाहर कर दिया था। वहीं दूसरे मैच में शिखर धवन ने 56 गेंदों में नाबाद 51 और कोहली ने 50 गेंदों में नाबाद 46 रन बनाते हुए अफ्रीकी टीम को आसानी से मात दी है। इसके अलावा रोहित शर्मा भी तेजी से बल्ला चला रहे हैं।

भारतीय कप्तान टेस्ट सीरीज में सबसे सफल बल्लेबाज थे, उन्होंने 47.66 के औसत से 286 रन बनाये और एकदिवसीय मैचों में एक शतक और नाबाद अर्द्धशतक के साथ इस फॉर्म को अपना लिया है। जहां एक तरफ गेंदबाजों ने पहले दो एकदिवसीय मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है तो वहीं आईसीसी वनडे प्लेयर रैंकिंग में नंबर एक के बल्लेबाज कोहली ने दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों को खुद पर हावी नहीं होने दिया है।

डीविलियर्स (नंबर 2), डी कॉक (नंबर 6) और डु प्लेसिस (नंबर 9) के साथ फिलहाल, अमला आईसीसी वनडे प्लेयर रैंकिंग में शीर्ष दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों में एक दसवें स्थान पर हैं। उनके पास अनुभव है, 26 शतक, 34 अर्धशतक, और 50.82 का कैरियर औसत और रन बनाने की क्लास उन्हें औरों से अलग बनाती है। तीसरे वनडे में अमला बल्ले से वापसी कर सकती है। अगर अमला का बल्लेबाजी में दक्षिण अफ्रीका को एक ठोस शुरुआत दे सकते हैं तो अफ्रीकी उम्मीदें जिंदा रह सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here