राधे माँ का जीवन परिचय

0
95
Radhe Maa Biography - Udta Social Official

राधे मा का असली नाम सुखविंदर कौर। उनका जन्म पंजाब के गुरुदासपुर जिले के दोरांगला गाव में हुआ।

राधे मा के अनुयायी का मानना है की, राधे मा का बचपन से आध्यात्मिकता की तरफ़ बड़ा झुकाव था।

सुखविंदर कौर यानी राधे मा ने चौथी कक्षा तक पढाई की। उन्होंने 17 साल की उम्र में मोहन सिंह से शादी की। वो घर चलाने के लिए कपडे सिया करती थी। ऐसे काम करके पति की छोटीसी आमदनी में थोडा बहुत इजाफा करने में मदत करती थी।

जब राधे मा के पति अच्छी नौकरी पाने के लिए दोहा (कतार) चले गए, उस दौरान राधे मा का अध्यात्मिकता के प्रति लगाव बढ़ने लगा था।

23 साल की उम्र में वो महंत राम दीन दास की अनुयायी बन गयी। महंत राम दीन दास होशियारपुर जिले के 1008 परमहंस बाग डेरा मुकेरियन से है। राम दीन दास ने राधे मा को तांत्रिक की दीक्षा दी और बाद में उन्हें राधे मा नाम से घोषित भी कर दिया।

परमहंस डेरा में आने के बाद सुखविंदर कौर ने ख़ुद को एक अलंकृत देवी के रूप में रहना शुरू कर दिया था।

उसके बाद वो मुंबई चली गयी जहापर मनमोहन गुप्ता उनके शिष्य बन गए। और तबसे वो गुप्ता परिवार के घर में रहती थी। वो मुंबई में कब और कैसे आयी थी किसी को भी मालूम नहीं था। लेकिन 2015 में गुप्ता परिवार के संजीव गुप्ता ने बताया की राधे मा उनके घर में पिछले 12 सालो से रह रही है।

जब वो शुरुवात में मुंबई में रहती थी तो वो सत्संग के लिए पंजाब के होशियारपुर और कपूरथला शहरों बहुत बार जाती थी। लेकिन बाद में कुछ दिनों के बाद मुंबई में ही उनके अनुयायी धीरे धीरे बढ़ने लगे थे।

गुप्ता परिवार के संजीव गुप्ता “श्री राधे गुरु मा चैरिटेबल ट्रस्ट” के मैनेजिंग ट्रस्टी है। गुप्ता ने कौर के दिव्यदर्शन के बारे में जागरूकता बढ़ने में बहुत बड़ा काम किया।

अभिनेत्री डोली बिंद्रा ने भी राधे मा पर यौन उत्पीडन और धमकी देने का आरोप लगाये है।

अगस्त 2015 में राधे मा (सुखविंदर कौर) को उनके भक्त सत्संग के दौरान घुमाते हुए नजर आनेवाला विडियो वायरल हो गया था। पेशे से वकील फाल्गुनी ब्रह्मभट ने राधे मा को ठग कहते हुए उनके खिलाफ अश्लीलता के लिए पुलिस में मामला दायर कर दिया था।

संजीव गुप्ता ने राधे मा पर लगे आरोपों को खारिज करते हुए कहा की जितने भी विडियो बनाए वो असली नहीं और उनमे कुछ बदलाव लाकर बनाया गया है।

राहुल महाजन ने राधे मा के छोटे कपडे पहने हुए फोटो सबके सामने लाये थे बता दिया था की ये राधे मा जैसे व्यक्ति को शोभा नहीं देता। उन तस्वीरों के कारण वो मुद्दा और भी बढ़ गया था। गुप्ता ने फिर भी इन सारे इल्जामो को झुटा कहा।

स्रोत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here