तेज होता है मच्छर का दिमाग, ऐसे लोगों को काटने से डरते हैं!

0
67
The mosquito brain is fast - Udta Social Official

कई बार आपने सुना होगा कि कुछ लोगों को मच्छर ज्यादा काटते हैं तो कुछ लोगों के पास तक नहीं जाते। इसके बारे में यह भी कहा जाता है कि जिसका खून ज्यादा मीठा होता है उसे मच्छर ज्यादा काटते हैं। लेकिन हाल में मच्छरों के व्यवहार पर जो शोध सामने आया है उसमें पता चला है कि मच्छर का दिमाग इतना तेज होता है कि इंसान को दूर ही भांप लेता है उसे काटना चाहिए या नहीं। यह रिसर्च ‘करंट बॉयोलॉजी’ नाम की पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

रिसर्च में कहा गया है हमारी त्वचा में पाए जाने वाले बैक्टीरिया करीब 200 प्रकार की गंध निकालते हैं। इनमें से ज्यादातर गंध मच्छरों को पसंद होती है लेकिन कुछ ऐसी गंध भी होती है जिससे मच्छर दूर भागते हैं। शोध में यह भी कहा गया है कि मच्छर इंसान की गंध पहचानने में भी बहुत तेज होता है। उसका दिमाग इतना तेज होता है कि जिस इंसान गंध उसे पसंद नहीं होती उसके पास दोबारा कभी नहीं जाता।

इतना ही नहीं, रिसर्च में यह भी कहा गया है कि मच्छर इंसान के हाव-भाव और व्यवहार से भी तय करते हैं कि उसे काटना है या नहीं। जैसे कि जो लोग मच्छर को मारने की कोशिश करते हैं, या मच्छर से बचने की कोशिश करते हैं उन्हें मच्छर काटन से बचते हैं।

The mosquito brain is fast1 - Udta Social Official

 

जिनको नहीं काटते मच्छर उनकी होती है ऐसी गंध

वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता जन्तु वैज्ञानिक जेफ रिफेल ने बताया कि इंसान की जो गंध मच्छरों पसंद होती है वह कुछ मशरूम जैसी होती है। इस गंध के भी कई प्रकार होते हैं जिन्हें मच्छर पसंद करते हैं।

उन्होंने बताया कि जिन लोगों के शरीर से नमी वाला बेसमेंट या ओवरराइप ब्री चीज जैसी आती हैं उनसे मच्छर दूर भागते हैं क्योंकि मच्छरों को ऐसी गंध पसंद नहीं होती। आमतौर पर हवा में मौजूद इंसान की गंध की वाइब्रेशन से मच्छर अंदाजा लगाते हैं कि उन्हें इस इंसान को काटना चाहिए या नहीं।

रिफेल ने बताया कि सच तो यह है कि इंसान के शरीर से निकलने वाली गंध कई प्रकार की गंधों का मिश्रण होती है। आपको मच्छर कितना ज्यादा काटते हैं इससे आपकी त्वचा से निकलने वाली गंध का अंदाजा लगाया जा सकता है।

 

मच्छरों को सिखाएंगे सबक-

इस शोध के बाद वैज्ञानिक अब ऐसी कृत्रिम गंध तैयार करने जा रहे हैं जिनसे मच्छर दूर भागते हैं। लोग इस कृत्रिम सेंट को लगाकर मच्छरों को सबक सिखा सकेंगे।

 

Source

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here