U19 WC: न्यूज़ीलैंड में अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत की सफलता के ये हैं 5 हीरो

0
64
Under-19 Indian Team - Udta Social Official

नई दिल्ली: भारतीय टीम ने अंडर-19 वर्ल्ड कप के फ़ाइनल में छठी बार कदम रखा है. टीम में पांच ऐसे युवा चेहरे हैं, जिन्होंने वर्ल्ड कप के लगभग हर मैच में बेहतरीन प्रदर्शन किया है. ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ फ़ाइनल में भी उनसे अच्छे खेल की उम्मीद रहेगी.

शुभमन गिल
5 मैच 341 रन
1 शतक, 3 अर्द्धशतक

पंजाब के शुभमन गिल अपनी धमाकेदार बल्लेबाज़ी के लिए अभी से मशहूर हो रहे हैं. ज़िंबाब्वे के ख़िलाफ़ नाबाद 90 और बांग्लादेश के ख़िलाफ़ 86 रन की पारी खेलने वाले शुभमन ने सेमीफ़ाइनल में भी शतक बनाकर सबको प्रभावित किया. 18 साल के शुभमन ने अब तक 5 मैचों में 341 रन बना चुके हैं. शुभमन की बल्लेबाज़ी की वजह से ही आईपीएल ऑक्शन में कोलकाता ने उन्हें 1.8 करोड़ में ख़रीदा.

 

पृथ्वी शॉ
5 मैच में 232 रन
2 अर्द्धशतक

भारतीय अंडर 19 टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में आने के पहले से ही घरेलू क्रिकेट में कमाल दिखाते रहे हैं. अपने पहले ही रणजी मैच में शतक बनाने वाले शॉ के नाम 9 फ़र्स्ट क्लास मैचों में 5 शतक और 3 अर्द्धशतक हैं. अंडर 19 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 94 रन की पारी खेलने वाले शॉ ने अब तक 5 मैचों में 232 रन बनाए हैं. IPL-11 में उन्हें दिल्ली ने 1.2 करोड़ में ख़रीदा है.

 

शिवम मावी
5 मैच 8 विकेट

नोएडा के रहने वाले तेज़ गेंदबाज़ शिवम मावी की रफ़्तार की चर्चा ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अंडर 19 वर्ल्ड कप के बाद से खूब हो रही है. क़रीब 146 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंद फेंकने की कला में माहिर मावी आगे चल कर अपने आदर्श डेल स्टेन की तरह बनना चाहते हैं. वर्ल्ड कप के 5 मैचों में 8 विकेट लेने वाले गेंदबाज़ की तारीफ़ पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी कर चुके हैं. कोलकाता नाइटराइर्स ने इस तेज़ गेंदबाज़ को 3 करोड़ में ख़रीदा है.

 

कमलेश नागरकोटी
5 मैच 7 विकेट

राजस्थान के युवा पेसर कमलेश नागरकोटी का नाम उनकी स्पीड की वजह से सबकी ज़ुबान पर है. नागरकोटी ने अंडर-19 टूर्नामेंट में 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंद फेंकने वाले नागरकोटी गेंदबाज़ी के अलावा अच्छी बल्लेबाज़ी और फ़ील्डिंग भी करते हैं. कोलकाता ने इस खिलाड़ी को 3.2 करोड़ में टीम में शामिल किया है. सौरव गांगुली और वेस्ट इंडीज़ के इयन बिशप नागरकोटी की जमकर तारीफ़ कर चुके हैं.

 

अनुकूल रॉय
5 मैच 12 विकेट

बिहार के समस्तीपुर के रहने वाले अनुकूल रॉय के लिए क्रिकेट की उंचाईयों को छूना आसान नहीं रहा. बिहार में कोई क्रिकेट संघ नहीं होने की सूरत में रॉय को अपना घर परिवार छोड़ कर जमशेदपुर में रहना पड़ा. खाने का दिक्कतों के साथ-साथ क्रिकेट के हुनर को निखारना उनके लिए मुश्किल भरा सफ़र रहा. झारखंड से खेलने वाले स्पिनर अनुकूल रॉय के लिए भारतीय अंडर 19 टीम में चयन किसी सपने से कम नहीं था. लेकिन अनुकूल ने पहले पपुआ न्यूगिनी के ख़िलाफ़ 5 और ज़िंबाब्वे के ख़िलाफ़ 4 विकेट लेकर टीम इंडिया की जीत में अहम रोल अदा किया. जानकार इस युवा स्पिनर से बेहद प्रभावित नज़र आते हैं.

 

source

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here